अपराधिक मानसिकता !

0
7
अपराधिक मानसिकता !
अपराधिक मानसिकता !

एक अंग्रेजी दैनिक समाचार पत्र में छपे एक समाचार के शीर्षक ने मुझे इस तरह आकर्षित किया कि न चाहते हुये भी उसे पढ़ने को हम मजबूर हो गये | १२ जुलाई १९ के टाइम्स ऑफ़ इंडिया के एक समाचार का शीर्षक था “missing prison food, man steals bike to return to jail “ | एक आदमी चोरी के आरोप में जमानत पर जेल से बाहर था और उसने एक बाईक चोरी कर अपने आप को पुलिस की पकड़ में आने के लिए अपने चेहरे को सीसीटीवी के कैमरे में दर्ज किया | पुलिस ने उसे पकड़ लिया | पूछताछ के सिलसिले में उसने बताया कि घर में कोई उस पर ध्यान नहीं रखता है | जेल में उसे समय पर नास्ता  दिन एवं रात का खाना मिल जाता है | यहाँ उसे आलसी कह कर कोसने वाला कोई नहीं है | उसके कई हमदर्द भी हैं | अनूठे आनंद के लिये पुलिस ने उसे जेल में बंद कर दिया |

हमें व्यक्ति की उस मानसिकता पर विचार करना चाहिए जो उसे जेल में अपनी जिन्दगी बिताने के लिए मजबूर किया | जेल लौटने के लिये उसे अपराध करने के सिवा दूसरा कोई उपाय नहीं था | इसलिए उसने बाईक चोरी करने का नाटक किया | इसका भी हमें विश्लेषण करना होगा कि क्या कोई ऐसा भी कर सकता है | क्या कोई मज़बूरी वश भी अपराध कर सकता है यह जानते हुए भी कि  अपराध करने के कारण उसे जेल की सजा या उससे भी कड़ी सजा मिल सकती है | ये सारी बातें कई सवालों को जन्म देती है | इसलिए यह भी जरूरी है कि अपराधी को सजा देने से पहले उसकी मानसिकता का विश्लेषण होना चाहिए | कहीं वो मानसिक रूप से कमजोर / बीमार तो नहीं ?

आये दिन छोटी छोटी बच्चियों से बलात्कार और उसके बाद उसकी हत्या की घटनाएँ सामने आ रही है | कभी कभी तो हत्या कर देने के बाद भी रेप की खबर आई है | इसे रोकने के लिए कड़े से कड़े कानून बनाये गये हैं | मध्य प्रदेश में ही देखिये, अप्रैल २०१८ में इस अपराध के लिए सजाये मौत का प्रावधान किया गया | इन प्रावधानों के अंतर्गत आज तक ऐसे २५ अपराधियों को मौत की सजा दी जा चुकी है | परन्तु ऐसे अपराध रुक नहीं रहें हैं | सुप्रीम कोर्ट भी इस मामले को लेकर गंभीर हो गई है और ऐसे मामलों के लिए शून्य सहनशक्ति अपनाने की नीति पर विचार करने को तैयार हो गई है | छ; महीने के अन्दर लगभग २४००० केस दर्ज किये जा चुके हैं | ये क्या हो रहा है ? समाज में ऐसी विकृतियाँ क्यों आ गई | लोगों की मानसिकता में न तो समाज का डर है न हीं कानून का डर |

                                                                                                                                              क्रमश:

Follow @India71_

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here