भाजपा के साथ सीटों की संख्या पर कोई चर्चा नहीं हुई – चिराग पासवान

0
29
भाजपा के साथ सीटों की संख्या पर कोई चर्चा नहीं हुई - चिराग पासवान
भाजपा के साथ सीटों की संख्या पर कोई चर्चा नहीं हुई - चिराग पासवान

लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान ने सोमवार को कहा कि बिहार चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ सीटों की संख्या के बारे में कोई चर्चा नहीं हुई।

पासवान ने यह भी कहा कि बिहार के लोगों को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की सात निश्चय- II में कोई विश्वास नहीं है।

हमारा ‘बिहार फर्स्ट, बिहारी फर्स्ट‘ विज़न डॉक्यूमेंट पीएम नरेन्द्र मोदी से प्रेरित है। मैंने हमेशा जोर देकर कहा है कि इस विज़न डॉक्यूमेंट को शामिल किया जाना चाहिए। पासवान ने कहा कि मुझे और बिहार के लोगों को सीएम के ‘सात निश्चय- II ‘ में कोई विश्वास नहीं है। भाजपा के साथ सीटों की संख्या पर कोई चर्चा नहीं हुई।

लोजपा नेता ने कहा कि ‘सात निश्चय’ नीतीश कुमार का व्यक्तिगत एजेंडा है एनडीए का नहीं। उन्होंने सीटों के बंटवारे की बातचीत को लेकर मीडिया में आई खबरों का भी जिक्र किया।

चिराग पासवान ने कहा, मीडिया में भी, मैंने सुना है कि मैं अधिक सीटों के लिए राजनीति कर रहा हूं। यदि मैं उन सीटों के लिए राजनीति में शामिल हूं जिन पर मेरा अधिकार है तो मैं इस को समझने में असमर्थ हूं।

महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार तेजस्वी यादव के बारे में पूछे गए सवाल का जवाब देते हुए चिराग पासवान ने कहा कि राजद नेता उनके छोटे भाई हैं।

लोजपा नेता ने कहा, मैं उन्हें अपनी शुभकामनाएं देता हूं। लोकतंत्र में जनता के सामने जितने बेहतर विकल्प होंगे उतना ही बेहतर है। लोगों को तय करने दें कि वे किसे अपना नेता मानते हैं।

प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी में “पूर्ण विश्वास” व्यक्त करते हुए, चिराग पासवान ने कहा कि जिस भावना के साथ पीएम ने ‘डबल इंजन की सरकार‘ का उल्लेख किया है, अगर इसका सही ढंग से पालन किया जाए, तो इसे जमीन पर लागू किया जा सकता है।

उन्होंने यह भी कहा कि लोजपा बिहार चुनाव के बाद ‘महागठबंधन‘ के साथ गठबंधन नहीं करेगी।

उनसे पूछा गया था कि क्या एलजेपी चुनाव के बाद के परिस्थितियों में ‘महागठबंधन’ का समर्थन करेगी। उन्होंने कहा, हमने चुनाव के बाद गठबंधन कभी नहीं किया है। हम हमेशा चुनाव पूर्व गठबंधन में रहे हैं।

हाथरस की घटना के बारे में बोलते हुए चिराग पासवान ने कहा कि उन्होंने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात की है उन्होंने आश्वासन दिया है कि दोषियों को सजा दी जाएगी।

लोजपा ने राज्य में सत्तारूढ़ गठबंधन के नेता के रूप में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ बिहार विधानसभा चुनाव नहीं लड़ने का फैसला किया है। लोजपा भाजपा द्वारा लड़ी जा रही सीटों पर चुनाव नहीं लड़ेगी, बल्कि जद-यू द्वारा लड़ी जा रही सीटों से लड़ेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here