CBI जाँच की मांग हमने नहीं की थी – हाथरस पीड़िता का भाई

0
168
CBI जाँच की मांग हमने नहीं कि थी - हाथरस पीड़िता का भाई
CBI जाँच की मांग हमने नहीं कि थी - हाथरस पीड़िता का भाई

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने हाथरस कांड में CBI जांच की सिफारिश कर दी है। इस पर पीड़िता के भाई ने कहा कि हमने CBI जांच की मांग नहीं की थी क्योंकि मामले में पहले से ही एसआईटी की जांच चल रही है।

राज्य सरकार ने बुधवार को ही इस पूरे प्रकरण की जांच के लिए तीन सदस्यीय एसआईटी का गठन कर दिया था। एसआईटी की शुरुआती जांच रिपोर्ट के आधार पर ही योगी सरकार ने हाथरस एसपी और डीएसपी सहित अन्य अधिकारियों को निलंबित करने का फैसला लिया था।

शनिवार को योगी आदित्यनाथ के आदेश के बाद राज्य सरकार ने हाथरस मामले की जांच के लिए सीबीआई की सिफारिश कर दी। मुख्यमंत्री ने शनिवार को ट्वीट कर कहा कि हाथरस की दुर्भाग्यपूर्ण घटना और उससे जुड़े सभी बिंदुओं की गहन पड़ताल के उद्देश्य से सरकार इस प्रकरण की विवेचना केंद्रीय जांच ब्यूरो से कराने की संस्तुति कर रही है। इस घटना के लिए जिम्मेदार सभी लोगों को कठोरतम सजा दिलाने के लिए हम संकल्पबद्ध हैं। इससे पहले इस मामले को लेकर दिन भर सियासी सरगर्मी चलती रही।

मुख्यमंत्री ने अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश कुमार अवस्थी एवं पुलिस महानिदेशक हितेश चन्द्र अवस्थी को हाथरस जाकर मौके की समीक्षा करने और अपनी आख्या देने के निर्देश दिए थे। दोनों अधिकारी  हाथरस पहुंचकर कर पीड़ित परिवार से मिले तथा परिजनों से बातचीत की। इन अधिकारियों ने जनप्रतिनिधियों से भी मुलाकात की। वरिष्ठ पुलिस एवं प्रशासनिक अधिकारियों से स्थिति के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की गई।

अपर मुख्य सचिव गृह व पुलिस महानिदेशक ने लखनऊ आकर शाम को अपनी रिपोर्ट मुख्यमंत्री के सामने रखी। इसके बाद मुख्यमंत्री ने अधिकारियों के साथ बैठक कर मामले  की गहन समीक्षा की और सीबीआई जांच की संस्तुति करने के निर्देश दिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here