हाथरस में तृणमूल कांग्रेस और पुलिस के बीच धक्का-मुक्की में गिरे डेरेक ओ ब्रायन

0
55
हाथरस में तृणमूल कांग्रेस और पुलिस के बीच धक्का-मुक्की में गिरे डेरेक ओ ब्रायन
हाथरस में तृणमूल कांग्रेस और पुलिस के बीच धक्का-मुक्की में गिरे डेरेक ओ ब्रायन

तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) के एक प्रतिनिधिमंडल को उत्तर प्रदेश पुलिस ने हाथरस सीमा पर ही रोक दिया था। पार्टी सांसद डेरेक ओ ब्रायन और प्रतिनिधिमंडल हाथरस घटना के पीड़ित परिवार से मिलने के लिए गये थे।

उनको रोकने के दौरान उनके साथ धक्का-मुक्की की गई। जिसमें वह जमीन पर गिर गए। हाथरस में मीडिया कर्मी भी धरने पर बैठे हैं।

विरोध तब शुरू हुआ जब पीड़ित परिवार से मिलने के लिए टीएमसी के चार सदस्यों को गांव के प्रवेश द्वार पर लगाए गए बैरिकेड पर ही रोक दिया गया।

डेरेक ने कहा, हमारे सांसदों (प्रतीमा मंडल, ममता ठाकुर, डेरेक ओ ब्रायन सहित) को रोका गया,  एसडीएम और पुलिस दे द्वारा उनके साथ हाथापाई की गई। हमें पैदल चलकर गांव नहीं जाने दिया जा रहा है।

टीएमसी नेता प्रतीमा मोंडल ने कहा कि मुझे से इन लोगों ने हाथापाई की है। हम सिर्फ परिवार के सदस्य से मिलना चाहते थे। हमने उनसे कहा कि अगर हम सभी को नहीं तो कम से कम एक को अंदर जाने की इजाजत दीजिये लेकिन वे नहीं माने। यदि चीजें हमारे साथ इस तरीके से होती हैं, तो कल्पना कीजिए कि वे आम आदमियों के साथ कैसा व्यवहार करते होंगे हैं? यह भयावह है।

बाद में कुछ लोग वहीँ बैरिकेड के पास यह कहते हुए विरोध प्रदर्शन किया कि वे पीड़ित के लिए न्याय चाहते हैं।

कल कांग्रेस के शीर्ष नेता राहुल गांधी, प्रियंका गांधी वाड्रा को यमुना एक्सप्रेसवे पर अन्य नेताओं और कांग्रेस पार्टी के सदस्यों के साथ रोक दिया गया था क्योंकि वे हाथरस की ओर जा रहे थे ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here