केंद्र वही कर रहा है जो ईस्ट इंडिया कंपनी ने किया था: राहुल गांधी

0
20
केंद्र वही कर रहा है जो ईस्ट इंडिया कंपनी ने किया था: राहुल गांधी
केंद्र वही कर रहा है जो ईस्ट इंडिया कंपनी ने किया था: राहुल गांधी

केंद्र, भारत के लिए वही कर रहा है जो अंग्रेजों की ईस्ट इंडिया कंपनी ने किया था, कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पंजाब के भवानीगढ़ में ‘खेतो बचाओ यात्रा‘ के दौरान कहा।

राहुल गाँधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर आरोप लगाते हुए कहा कि मंडी और MSP प्रणाली जो भारत के कृषि क्षेत्र की ताकत है उसे को नष्ट करने की कोशिश की जा रही है। अगर बीजेपी की अगुवाई वाली केंद्र सरकार किसानों की रीढ़ तोड़ने में सफल रही तो अंबानी और अडानी जैसे उद्योगपतियों द्वारा पूरे देश को गुलाम बना लिया जाएगा। मोदी सरकार भारत के वही कर रही है जो अंग्रेजों की ईस्ट इंडिया कंपनी ने किया था।

उन्होंने कहा कि लोग जो अभी 10 रुपये में खरीदते हैं, उनकी कीमत कॉरपोरेट शासन के तहत 50 रुपये होगी, और यह पैसा किसानों या मजदूरों को नहीं, बल्कि कॉरपोरेट घरानों की जेब में जाएगा।

राहुल ने आगे चेतावनी दी कि अंबानी और अडानी श्रमिक का इस्तेमाल नहीं करेंगे बल्कि कृषि क्षेत्र के संचालन के लिए मशीनें तैनात करेंगे, जिससे लाखों लोग बेरोजगार हो जाएंगे।

उन्होंने कहा, नई व्यवस्था के तहत किसानों को इन उद्योगपतियों से सौदा करने के लिए मजबूर किया जाएगा और यहां तक कि राज्य का प्रशासन और पुलिस भी उनकी मदद नहीं कर पाएंगे।

किसानों पर केंद्र सरकार के हमले ने पूरे देश को बर्बाद कर दिया है, ट्रैक्टर रैली की शुरुआत में संगरूर के बरनाला चौर में एक रैली को संबोधित करते हुए राहुल ने चेतावनी दी, यह रैली भवानीगढ़, फतेहगढ़ छाना, बहमना से होकर जाने वाली है, पटियाला जिला के समाना के अनाज मंडी में रैली के साथ समापन होगा।

एक बार जब ये उद्योगपति अनाज पर नियंत्रण कर लेंगे, तो हर घर को सामान के लिए 3 गुना भुगतान करना होगा, जिससे पूरे देश को तबाही और पीड़ा होगी। न केवल किसानों को अपनी जमीन और आजीविका खोनी पड़ेगी, बल्कि मंडियों और खाद्य खरीद श्रृंखला से जुड़े अन्य लोग भी प्रभावित होंगे। राहुल ने कहा।

उन्होंने कहा कि मौजूदा प्रणाली को मजबूत करना, और इसमें मौजूद खामियों को दूर करने के बजाय, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसे नष्ट करने पर आमादा हैं। उन्होंने कहा कि मोदी केवल अपने उद्योगपति मित्रों को खुश करने के लिए ही काम करते हैं।

राहुल ने भाजपा की अगुवाई वाली सरकार पर निशाना साधते हुए कहा की रोजगार देने में विफल रहने के बाद अब कृषि को खत्म करने की कोशिश कर रही है।

उन्होंने कहा, सिर्फ अम्बानी और अडानी ही नहीं नौकरियों का सृजन करते हैं बल्कि छोटे व्यवसाय और MSMEs भी करते हैं, जिसे नोटबंदी, जीएसटी जैसे दुर्भावनापूर्ण कदमों से नरेन्द्र मोदी ध्वस्त कर रहे हैं।

यह बताते हुए कि छह साल से मोदी अपनी नीतियों के साथ गरीबों पर हमला कर रहे हैं, राहुल गाँधी ने कहा कि विमुद्रीकरण के साथ आम लोगों की मेहनत की कमाई बैंकों के माध्यम से बड़े उद्योगपतियों के पास भेज दी गई, और जीएसटी के साथ उन्होंने SMEs और छोटे व्यापारियों को बर्बाद कर दिया है।

उन्होंने कहा, यहां तक कि कोरोना संकट का उपयोग प्रधानमंत्री ने अपने पूंजीवादी दोस्तों की मदद के लिए किया, जिनके ऋण और करों को उन्होंने माफ कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here